Home स्वास्थ्य स्वस्थ रहना हैं तो डाल लीजिए बिना तकिये सोने की आदत, जानें...

स्वस्थ रहना हैं तो डाल लीजिए बिना तकिये सोने की आदत, जानें कैसे प्रभावित होता हैं शरीर

रात को सभी आराम की नींद लेना पसंद करते हैं और इस दौरान किसी भी तरह का परिवर्तन नींद में खलल डालने का काम करता हैं, खासतौर से अपनी पसंद का तकिया ना मिल पाना। जी हां, आजकल देखने को मिलता हैं कि लोगों को सोते समय अपना ही तकिया चाहिए होता हैं और कई लोग तो शहर से बाहर जाते हैं तो अपने साथ अपना तकिया भी ले जाते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि तकिये का इस्तेमाल ना करना आपकी कई शारीरिक परेशानियों को दूर कर सकता हैं। जी हां, तकिया लगाकर सोने से शरीर के कई अंगों पर अलग-अलग तरह से प्रभाव पड़ता है। आज इस कड़ी में हम आपको बताने जा रहे हैं कि तकिये के बिना सोना किस तरह आपके लिए फायदेमंद साबित होता है। आइये जानते हैं इसके बारे में…

रीढ़ की हड्डी को मिलता है आराम
जब व्यक्ति सोते समय अपने सिर के नीचे तकिया लगाकर सोता है तो उससे रीढ़ की हड्डी और सिर की पोजीशन एक समान नहीं होती है। खासकर ज्यादा ऊंची तकिया लगाने पर रीढ़ की हड्डी की पोजीशन सोते समय टेढ़ी रहती है, जिसके कारण कई तरह के परेशानियां हो सकती हैं। अक्सर इसी के कारण सोकर उठने पर लोगों में शरीर में अकडऩ और पीठ दर्द की शिकायत देखने को मिलती है। इसलिए आपके लिए बिना तकिया सोना ज्यादा फायदेमंद है क्योंकि इससे आपकी रीढ़ की हड्डी और सिर की पोजीशन सीधी बनती है। बिना तकिये लगाए सोने से व्यक्ति की गर्दन स्पाइन की दिशा में रहती है, जिसकी वजह से पीठ दर्द की समस्या नहीं होती।

सिर दर्द से मिलेगा छुटकारा
अगर आप बिना तकिए के सोते हैं तो इसका आपके शरीर पर बहुत अच्छा प्रभाव पड़ेगा। क्योंकि बिना तकिए के सोने से शरीर को फायदा होता है। ऐसा करने से आपको सिरदर्द से छुटकारा मिलता है, जबकि कमर दर्द की शिकायत भी नहीं होती है।

गर्दन दर्द से मिलेगी राहत
हम अक्सर तकिए का उपयोग इसलिए करते हैं, ताकि गर्दन और सिर को सही सपोर्ट मिल सके। लेकिन एक गलत पोजीशन और गलत तकिए की वजह से आपको कई शारीरिक समस्याएं होने लगती हैं। इससे आपके गर्दन के मसल्स पर दबाव पड़ता है, जिसकी वजह से आपकी गर्दन में दर्द हो सकता है। इसके बजाय अगर आप बिना तकिए के सोते हैं तो इससे आप गर्दन के दर्द से तो बचते ही हैं साथ ही आपके गर्दन और सिर तक का रक्त प्रवाह भी बेहतर रहता है।

अच्छी नींद आएगी
नींद न आना भी एक बड़ी प्रॉब्लम है। ऐसे में अगर आप अच्छी नींद चाहते हैं तो बिना तकिए के सोना शुरू कीजिए, इससे आपकी थकान दूर होगी और आपको अच्छी नींद भी आएगी। जिससे आप सुबह उठकर बिल्कुल फ्रेश महसूस करेंगे।

तनाव से मिलेगी राहत
भागदौड़ भरी लाइफ में तनाव लोगों की बड़ी समस्या बन गई है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि बिना तकिए के सोने से आपका सिर ऊपर की ओर नहीं होगा, जिससे आपके मस्तिष्क तक रक्त संचार ठीक रहता और तनाव नहीं होता है।

चेहरे पर झुर्रियां नहीं पड़ती हैं
जो लोग सोते समय बहुत फूली हुई और मुलायम फोम वाली तकिये का इस्तेमाल करते हैं उनके चेहरे पर झुर्रियां जल्दी देखने को मिलती हैं। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि ऐसी फोम वाली तकिया लगाकर सोने से चेहरे पर दबाव पड़ता है और तकिये पर मौजूद धूल-गंदगी और बैक्टीरिया आदि स्किन पोर्स में समाकर त्वचा को नुकसान पहुंचाते हैं। इसके कारण चेहरे की त्वचा पर मुंहासे की समस्या भी हो सकती है। तो अच्छा यही है कि आप बिना तकिया सोएं।

RELATED ARTICLES

गुस्सा भी कम जानलेवा नहीं, बिगाड़ देता है शरीर का संतुलन, इन बीमारियों को देता है हवा

आपने अपने बड़े-बूढ़ों को अक्सर यह कहते हुए सुना होगा कि गुस्सा कई बीमारियों की जड़ है. आज का युवा ये बात माने या...

सावधान- ईयरफोन का ज्यादा इस्तेमाल खतरनाक…

ईयरफोन का ज्यादा इस्तेमाल… 100 करोड़ युवाओं पर बुरा असर डालेगा. ये अनुमान है वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन (ङ्ख॥ह्र) का. दरअसल आजकल चाहे लोकल ट्रेन...

त्वचा को ठंडक पहुंचाने के लिए आप भी रगड़ते हैं आइसक्यूब तो जान लीजिए ये जरूरी बात

गर्मियों में त्वचा का ख्याल रखना काफी जरूरी होता है। क्योंकि गर्मी और धूप का असर सबसे ज्यादा आपके चेहरे पर ही पड़ता है।...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Latest Post

रिजर्व बैंक की मौद्रिक नीति समीक्षा का बाजार पर रहेगा असर

मुंबई। विश्व बाजार के मिलेजुले रुख के बीच स्थानीय स्तर पर हुई लिवाली की बदौलत बीते सप्ताह मामूली बढ़त पर रहे घरेलू शेयर की अगले...

हेमकुंड साहिब में आठ फीट तक जमी बर्फ, सुबह नौ से दस बजे तक ही तीर्थयात्रियों को जाने की अनुमति

जोशीमठ। उत्तराखंड में सोमवार रात बारिश और बर्फबारी से मौसम में ठंडक आ गई है। वहीं, हेमकुंड साहिब में भी बर्फबारी से ठंड बढ़...

फेसबूक यूजर्स के लिए बड़ा अलर्ट, एक छोटी सी गलती से लग सकता है लाखों का चूना

नई दिल्ली। फेसबुक पर एक नए स्कैम का खुलासा हुआ है, जो एक लिंक की मदद से लोगों को लाखों का चूना लगा रहा है।...

मैक्स सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल, देहरादून ने ब्रेन ट्यूमर पर जागरूकता फैलाने के लिए ‘विश्व ब्रेन ट्यूमर दिवस’ पर मीडिया को किया संबोधित 

देहरादून। ब्रेन ट्यूमर तेजी से युवा और बूढ़े समान रूप से प्रभावित कर रहे हैं। ये घातक और सौम्य हो सकते हैं।मैक्स अस्पताल की...

‘थैला घर’ की अनूठी पहल के बाद देहरादून छावनी ने किया प्लास्टिक को रीसायकल कर प्रदूषण का समाधान

देहरादून। उत्तराखंड का देहरादून स्टेशन जोश के साथ प्लास्टिक से लड़ रहा है। 05 जून को दून सैनिक संस्थान में आयोजित विश्व पर्यावरण दिवस समारोह...

सीएम पुष्कर सिंह धामी ने बेरोजगार युवाओं को दी बड़ी सौगात, उत्तराखंड में जल्द होगी 1550 कांस्टेबलों की भर्ती

7 साल बाद उत्तराखण्ड पुलिस को मिले 1425 नये आरक्षी देहरादून। उत्तराखंड पुलिस में जल्द ही कांस्टेबल के 1550 पदों पर नई भर्ती होगी। सीएम...

भीषण सड़क हादसा : कार और निजी बस की टक्कर में मासूम सहित 6 लोगों की दर्दनाक मौत

चंद्रपुर। महाराष्ट्र के चंद्रपुर जिले में एक बड़ा हादसा होने का समाचार है। यहां एक यात्री बस और कार की टक्कर में 6 लोगों की...

भूल भुलैया 2- तमिल में बनेगा इस सुपरहिट फिल्म का रीमेक, सिंघम के निर्माता लगाएंगे दांव

कार्तिक आर्यन की फिल्म भूल भुलैया 2 एक बार फिर चर्चा में आ गई है। जहां अब भूल भुलैया 3 की तैयारी चल रही...

सीएम धामी का ऐलान- चार मैदानी जिलों में बनेंगे साइकिल ट्रैक

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर धामी ने कहा कि राज्य के चार मैदानी जिलों में 50-50 किमी लंबे साइकिल ट्रैक बनाएं जाएंगे। उन्होंने उत्तराखंड में स्प्रिंग व...

ओडिशा ट्रेन हादसे में बंगाल से मरने वालों की संख्या 81 पहुंची

कोलकाता। पश्चिम बंगाल सरकार के अनुसार, ओडिशा ट्रेन त्रासदी में राज्य से मरने वालों की संख्या बढक़र 81 हो गई है। रविवार शाम को मुख्यमंत्री...