अंतर्राष्ट्रीय

कनाडा सरकार का बड़ा फैसला, दो साल तक प्रॉपर्टी खरीदने पर लगाया बैन

ओटावा । कनाडा में सरकार ने विदेशियों के लिए प्रॉपर्टी खरीदने पर प्रतिबंध लगा दिया है। आवास की कमी का सामना कर रहे स्थानीय लोगों को अधिक घर उपलब्ध कराने के उद्देश्य से कनाडा में रेसिडेंशियल प्रॉपर्टी खरीदने वाले विदेशियों पर प्रतिबंध लगाया गया है। ये प्रतिबंध रविवार (1 जनवरी) से प्रभावी हो गया है। हालांकि, अधिनियम में कई अपवाद भी हैं।

सरकार ने फैसला किया है कि विदेशी लोग दो साल तक कनाडा में आवासीय संपत्ति नहीं खरीद पाएंगे। यह प्रतिबंध 1 जनवरी 2023 से लागू हो गया है। सरकार का कहना है कि इससे स्थानीय लोगों के लिए घर उपलब्ध हो सकेंगे। कनाडा के लोग घर की समस्या से परेशान हैं। कनाडा सरकार द्वारा लगाए गए प्रतिबंध में कुछ अपवाद भी हैं। शरणार्थियों और स्थायी निवासियों (जो नागरिक नहीं हैं) को घर घरीदने की अनुमति है। प्रतिबंध केवल शहर में बने घरों पर लागू है। ग्रीष्मकालीन कॉटेज जैसी मनोरंजक संपत्तियों को खरीदने पर रोक नहीं है।

घर की कीमत कनाडा के लोगों के लिए बड़ा मुद्दा है। 2021 के चुनाव में प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने वादा किया था कि उन्हें जीत मिलती है तो विदेशी लोगों के घर खरीदने पर दो साल के लिए अस्थायी प्रतिबंध लगाएंगे। जस्टिन ट्रूडो की लिबरल पार्टी ने चुनाव के दौरान कहा था कि कनाडा में घरों की मांग अधिक है। इसने मुनाफाखोरों, धनी निगमों और विदेशी निवेशकों को आकर्षित किया है। इसके चलते घरों की कीमतें आसमान छू रही हैं। बड़ी संख्या में घर खाली हैं। उनका इस्तेमाल नहीं हो रहा है। घर लोगों के लिए हैं, निवेशकों के लिए नहीं।

विदेशी लोगों के घर खरीदने पर लगाए गए प्रतिबंध का असर भी दिख रहा है। घरों की कीमत में कमी आ रही है। कैनेडियन रियल एस्टेट एसोसिएशन के अनुसार औसत घर की कीमतें 2022 की शुरुआत में 5.9 लाख अमेरिकी डॉलर से अधिक के शिखर से गिरकर पिछले महीने 4.65 लाख अमेरिकी डॉलर पर आ गईं हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

fapjunk