बिज़नेस

भारत बॉन्ड ईटीएफ का चौथा चरण दिसंबर में शुरू होने की संभावना

नई दिल्ली।  सरकार दिसंबर में देश के पहले कॉरपोरेट बॉन्ड एक्सचेंज ट्रेडेड फंड भारत बॉन्ड (ईटीएफ) का चौथी चरण शुरू करने की योजना बना रही है। एक अधिकारी ने यह जानकारी दी। इसके जरिए जुटाई गई पूंजी का उपयोग सार्वजनिक क्षेत्र उपक्रमों (सीपीएसई) द्वारा पूंजीगत व्यय के लिए किया जाएगा।

अधिकारी ने बताया, ‘‘अभी हम सीपीएसई के साथ चर्चा और उनकी जरूरतों का आकलन कर रहे हैं। भारत बॉन्ड ईटीएफ की चौथी किस्त या चरण के लिए निर्गम का आकार पिछले साल के आकार के करीब हो सकता है।” सरकार ने पिछले साल दिसंबर में 1,000 करोड़ रुपए का तीसरा चरण पेश किया था। इस दौरान इसे 6,200 करोड़ रुपए की बोलियों के साथ 6.2 गुना अधिक अभिदान मिला था। वर्ष 2019 में बॉन्ड ईटीएफ की पहली पेशकश की गई थी। सीपीएसई को इसके जरिए 12,400 करोड़ रुपए जुटाने में मदद मिली।

इसने दूसरे और तीसरे चरण में क्रमश:

11,000 करोड़ रुपए और 6,200 करोड़ रुपए जुटाए थे। ईटीएफ ने अबतक अपनी तीन पेशकशों में 29,600 करोड़ रुपए जुटाए हैं। भारत बॉन्ड ईटीएफ केवल सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों के ‘एएए’ रेटिंग वाले बॉन्ड में निवेश करता है। एडलवाइस एसेट मैनेजमेंट इस योजना की पूंजी प्रबंधक है। ईटीएफ के प्रबंधन के तहत परिसंपत्तियां 2019 से शुरू होने के बाद से अब तक 50,000 करोड़ रुपए के आंकड़े को पार कर गई हैं। वर्तमान में ईटीएफ के लिए पांच भिन्न-भिन्न परिपक्वता अवधि हैं…2023, 2025, 2030, 2031 और 2032…।.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

fapjunk