उत्तराखंड

द्रोपदी का डांडा में हुए हिमस्खलन की चपेट में आने से यमकेश्वर विधानसभा क्षेत्र के दो युवा पर्वतारोहियों ने गवाई अपनी जान

यमकेश्वर/दुगड्डा। उत्तरकाशी के द्रोपदी डांडा में हिमस्खलन की चपेट में आने से कई पर्वतारोही लापता हो गये थे एनडीआरीफ और एसटीआरफ ने पिछले 4 अक्टूबर से लापता पर्वतरोही को खोजने में लगे हुए थे, मौसम के खराब होने के कारण सर्च अभियान चलाने में समस्या आ रही थी। उक्त दुर्घटना में कई पर्वतरोही वहीं धराशयी हो गये और कुछ लापता थे।

बताया जा रहा है की अभी तक 29 लोगो की इस दुर्घटना में मौत हो गई है, जिसमे से जिला पौड़ी गढ़वाल के दुगड्डा क्षेत्र के जौरासी गाँव का युवा पर्वतरोही संतोष कुकरेती और यमकेश्वर के माला गॉव निवासी नरेन्द्र बिष्ट के रूप में उभरते हुए दो पर्वतारोही को खो दिया है। संतोष कुकरेती और नरेन्द्र बिष्ट दोनों के असमय इस दुनिया से चले जाने से पूरे क्षेत्र में गमगीन का माहौल हैं। यह दोने युवा पर्वतारोहण में एक नया मुकाम हासिल करना चाहते थे किंतु होनी को कुछ और ही मंजूर था और यह दोनों पर्वतारोहण के दौरान ही हिमस्खलन के चपेट में आने से इस दुनिया को अलविदा कहकर चले गये। संतोष कुकरेती और नरेन्द्र बिष्ट के परिजनों को 04 अक्टूबर से लापता होने के बाद उम्मीद थी कि यह दोनों हमारे पास सकुशल वापिस आयेगें किंतु जैसे ही दिन व्यतीत होते गये उम्मीदें कम होती गयी और अंततः 08 अक्टूबर को दोनों के पार्थिव शरीर मिलने से पूरी तरह से टूट गये। कम उम्र के इन दोनों युवाओं के चले जाने से पूरे क्षेत्र में गम का माहौल है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

fapjunk